ENTERTAINMENT

राजू श्रीवास्तव: प्रतिवर्ष राजू के नाम पर की गई एक पुरस्कार की घोषणा, उप्र साहित्य सभा की ओर से लंतरानी पुरस्कार राजू को होगा समर्पित

राजू श्रीवास्तव: दिल्‍ली एम्‍स में 21 सितंबर की सुबह 58 साल की उम्र में राजू श्रीवास्तव का निधन हो गया था। उन्हें 10 अगस्त 2022 को कार्डियक अरेस्ट के बाद से एम्स में भर्ती किया गया था। वह तभी से कोमा में थे। राजू को आईसीयू में वेंटिलेटर पर रखा गया था। हालांकि, बीच में कई बार उनके शरीर में हरकत जरूर हुई, लेकिन वह होश में नहीं आ सके। और हर चेहरों पर मुस्कराहट बिखेरने वाला इस बेहतरीन शख्स ने दुनिया से रुखसत ले लिया।

हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव को उत्तर प्रदेश साहित्य सभा और अवधी विकास संस्थान की ओर से श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस दौरान अवधी विकास संस्थान की ओर से प्रतिवर्ष राजू के नाम पर एक पुरस्कार की घोषणा की गई। वहीं उप्र साहित्य सभा की ओर से लंतरानी पुरस्कार राजू को समर्पित होगा। अवध ज्योति का विशेषांक भी राजू पर निकाला जाएगा।

पूर्व उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने राजू श्रीवास्तव से जुड़े कई संस्मरण सुनाए। एमएलसी मुकेश शर्मा ने राजू को विश्व का सबसे बड़ा मौलिक हास्य कलाकार बताया तो स्नातक एमएलसी अवनीश सिंह ने शोक पुस्तिका में अपने उद्गार व्यक्त किए। दो सौ से भी अधिक लोगों ने राजू श्रीवास्तव को श्रद्धांजलि दी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular