INDIA

लद्दाख: चीन के सीमावर्ती गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स इलाके से सेना की वापसी का जनरल पांडे आज लेंगे जायजा, 12 सितंबर तक हो जाएगी वापसी

दौरा: भारत और चीन हाल ही में चीन के सीमावर्ती गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स इलाके से सेना की वापसी के रजामंद हुए हैं। सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे आज लद्दाख दौरे पर पहुंच रहे हैं। वहां वे चीन के सीमावर्ती गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स इलाके से जारी सेना की वापसी प्रक्रिया का जायजा लेंगे। भारत और चीन हाल ही में इस इलाके से सेना की वापसी के रजामंद हुए हैं।

सैन्य सूत्रों ने बताया कि 17 जुलाई को  दोनों देशों के बीच हुई 16 वें दौर की कमांडर स्तरीय वार्ता में सहमति के बाद शुक्रवार से गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स  (PP-15) से दोनों पक्षों की सैन्य टुकड़ियों की वापसी शुरू हो गई है। इसके बारे में विस्तृत बयान जारी किया जाएगा। माना जा रहा है कि उक्त स्थान से भारतीय सेना अपनी टुकड़ी को करम सिंह हिल की ओर पीछे ले जा सकती है, जबकि चीनी सेना उत्तर की ओर चीनी इलाके में वापसी कर सकती है।

दोनों पड़ोसी देशों के बीच मई 2020 में पूर्वी लद्दाख में उस वक्त तनाव पैदा हुआ था, जब चीन ने मनमाने ढंग से इलाके में अपनी सेना तैनात कर दी थी। भारत चीन की सेना पेट्रोलिंग पाइंट 15 में आमने-सामने आ गई थी। शुक्रवार को चीन व भारतीय विदेश मंत्रालय ने पीपी-15 से सेना की वापसी की पुष्टि की थी।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा था कि गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स पर 8 सितंबर से ही दोनों सेनाओं की ओर से पीछे हटने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई थी। उन्होंने बताया कि 12 सितंबर तक दोनों सेनाएं इस जगह को खाली कर देंगी। दोनों पक्षों के बीच सहमति बनी है कि पूरे क्षेत्र में चरणबद्ध तरीके से सैनिकों को हटाया जाएगा और वापस अपने क्षेत्र में बुलाया जाएगा।

चीनी सेना ने कहा है कि गोगरा-हॉटस्प्रिंग्स पीपी-15 से दोनों देशों की सेनाओं की वापसी की प्रक्रिया शुरू हो गई है। यह सुनियोजित व समन्वित ढंग से होगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular